॥ घृणिः ॥ ॐ नमो भगवतेऽजितवैश्वानरजातवेदसे ॥ घृणिः ॥

संपर्क करें

पं. श्री सूरज प्रसाद शर्मा जी का संक्षित्प जीवनपरिचय

ये आचार्यश्री कौशलेन्द्रकृष्ण जी के बड़े पिताश्री थे। छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिला अन्तर्गत पण्डरिया शहर से दक्षिण-पूर्व की ओर १६ किलोमीटर दूरी पर अँखरा नामक ग्राम है, जहाँ शाकद्वीपीय मग ब्राह्मण परिवार में १६ जून १९४७ के दिन पं. श्री सूरज प्रसाद शर्मा जी का जन्म हुआ।...

स्वागतं सुस्वागतम्

आचार्यश्री कौशलेन्द्रकृष्ण जी की कथा आचार्यश्री कौशलेन्द्रकृष्ण जी कीकथाओं के वीडियो देखें – Youtube Playlist आचार्यश्री कौशलेन्द्रकृष्ण जी कायूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें – Youtube Channel आचार्यश्री कौशलेन्द्रकृष्ण जीसे सम्पर्क करें –...

श्लोकधारा

सुनीलहस्तचन्द्रहासहाटकस्थले कबन्–धहीनमुण्डमालिकामयामधर्म्यमन्थिकाम्।तथैव दुग्धसागरप्रभा प्रह्रीय ह्नाविकाइव प्रभा प्रपूरितां नुमोऽस्त्वनुग्रहार्णवाम्॥ – आचार्यश्री कौशलेन्द्रकृष्ण जी “नीले रंग के हाथों में चन्द्रहास तथा स्वर्णाभूषणों के स्थान,...

किसी भी PDF को खोजने की प्रक्रिया

यदि आप हमारी साइट में डाउनलोड पृष्ठ पर अपनी उपयोगिता के *pdf को प्राप्त करने की आशा से आए हैं तथा आप खोज नहीं पाए, तो इससे निश्चित ही आप निराशा महसूस कर रहे होंगे। किन्तु आप तनिक भी चिन्ता न करें। हम आपका सहयोग करेंगे। आप वस्तुतः दो प्रकार से अपने ग्रंथों को खोज सकते...
error: कॉपी न करें, शेयर करें। धन्यवाद।